रिवेन्यू इंस्पेक्टर कैसे बने? इसके कोर्स तथा योग्यता की जानकारी

रिवेन्यू इंस्पेक्टर का पद राज्य के अंतर्गत होता है जिसमें इनको राज्य के अधीन आने वाले महत्वपूर्ण निरीक्षक कार्य को करना होता है. आज हम आपको बताएंगे कि रिवेन्यू इंस्पेक्टर कैसे बने? तथा इसकी योग्यता और सैलरी कितनी होती है?

रिवेन्यू इंस्पेक्टर राजस्व निरीक्षक भी कहा जाता है, यह एक सरकारी नौकरी होती है और आजकल के सभी विद्यार्थियों का सपना भी सरकारी नौकरी को हासिल करना होता है.

इसलिए विद्यार्थियों द्वारा सरकारी नौकरी की परीक्षाओं के लिए मेहनत अत्यधिक की जाती है. सभी सरकारी नौकरी के अंतर्गत राजस्व निरीक्षक भी एक सरकारी पद है जिसे बहुत से विद्यार्थी पाना चाहते हैं.

रिवेन्यू इंस्पेक्टर क्या होता है?

रिवेन्यू इंस्पेक्टर का पद राज्य के राजस्व विभाग के अंतर्गत होता है.

इस पद में नियुक्त राजस्व निरीक्षक एक प्रतिष्ठित और उच्च श्रेणी के अधिकारी होते हैं राजस्व विभाग एक उच्च अस्तर का पद होता है जिसमें एक योग्य अधिकारी का होना आवश्यक है 

इसलिए राजस्व विभाग के द्वारा रिवेन्यू इंस्पेक्टर की परीक्षा का आयोजन किया जाता है जिसमें हजारों हजार विद्यार्थी फॉर्म अप्लाई करते हैं.

जैसा कि आपको पता है कि एक राजस्व निरीक्षक का पद सरकारी होता है और सरकारी नौकरी को हमारे समाज में बहुत ही महत्व दिया जाता है.

इसलिए अधिकतर विद्यार्थियों की सपना सरकारी नौकरी को पाने की होती है और यह पद भी अन्य सरकारी नौकरियों के जैसा एक महत्वपूर्ण पद है.

इसलिए बहुत से ऐसे उम्मीदवार हैं जो राजस्व निरीक्षक की परीक्षा की तैयारी बहुत ही कड़ी परिश्रम और इमानदारी पूर्वक करते हैं.

इंस्पेक्टर के कार्य 

जिस योग्य उम्मीदवार को राजस्व विभाग के अंतर्गत राज्य के निकाय के निर्देशक कार्यालय में  प्रतिष्ठित अधिकारी के रूप में नियुक्त किया जाता है उनका कार्य अपने राज्य के प्रति बहुत ही महत्वपूर्ण होता है. 

इस अधिकारी का कार्य राजस्व विभाग के साथ-साथ अन्य विभागों में हो रही अनियमितताओं की जांच पड़ताल करके  इनकी कार्रवाई अच्छे ढंग से करना होता है. 

इन सभी कार्यों के साथ-साथ एक रिवेन्यू इंस्पेक्टर राजस्व का निरीक्षण करता है तथा फील्ड विजिट के  समय रिपोर्ट तैयार करना भी इन्हीं का कार्य होता है.

इस प्रकार एक राजस्व निरीक्षक  अपने राज्य से संबंधित कार्यों को कर अपना प्रभावपूर्ण  योगदान देता है. इन सभी कार्यों को वे इमानदारी पूर्वक और सही तरीके से करते हैं.

रिवेन्यू इंस्पेक्टर की शैक्षणिक योग्यता 

यदि आपका भी सपना रिवेन्यू इंस्पेक्टर बनना है तो इसके लिए आप की शैक्षणिक योग्यता इस पोस्ट के आधार पर होनी चाहिए जो निम्नलिखित है:-

जो विद्यार्थी इस पद के लिए आवेदन करना चाहते हैं उन्हें किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र या कॉमर्स के ऑनर्स विषय के साथ स्नातक डिग्री प्राप्त करनी होगी. 

अर्थशास्त्र या कॉमर्स के ऑनर्स विषयों के साथ ग्रेजुएशन कंप्लीट करके अभ्यर्थी इस पद के लिए आवेदन कर सकते हैं .

रिवेन्यू इंस्पेक्टर की परीक्षा की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों को कंप्यूटर की बेसिक जानकारी होना आवश्यक है क्योंकि इस पद में नियुक्त अधिकारी का कार्य कंप्यूटर से संबंधित भी होता है.

जो अभ्यर्थी इस सरकारी पद के लिए फॉर्म अप्लाई करना चाहते हैं उन्हें कंप्यूटर की जानकारी होनी आवश्यक है.

इन सभी योग्यताओं के साथ-साथ इंग्लिश और हिंदी भाषाओं के साथ साथ अधिकारिक भाषा का ज्ञान भी होना आवश्यक है.

इस प्रकार जो विद्यार्थी इस पोस्ट के लिए आवेदन करना चाहते हैं उनके पास इन सभी योग्यताएं शामिल होना अनिवार्य है तभी वह रिवेन्यू इंस्पेक्टर की परीक्षा के फॉर्म भर सकते हैं.

रिवेन्यू इंस्पेक्टर आयु सीमा 

इस पद के लिए वही विद्यार्थी फॉर्म अप्लाई कर सकते हैं जिसकी आयु 21 साल से 40 साल के बीच हो. 

इस सरकारी पद के लिए न्यूनतम आयु 21 साल तथा अधिकतम आयु 40 साल होती है तो जिस भी विद्यार्थी की आयु इनके बीच है वही इसके लिए आवेदन कर सकते हैं.

यह परीक्षा हर राज्य के राजस्व अधिकारी के द्वारा आयोजित की जाती है जिसमें योग्यताओं के साथ-साथ आयु सीमा निश्चित होती है. 

कुछ राज्यों में न्यूनतम आयु सीमा तो 21 वर्ष होती है लेकिन अधिकतम आयु सीमा 36 वर्ष दी जाती है.

आरक्षित क्षेत्र के उम्मीदवारों को सरकार के द्वारा एज में छूट दी जाती है.

इस परीक्षा की चयन प्रक्रिया 

रिवेन्यू इंस्पेक्टर बन्ना जिन विद्यार्थियों की सपना होती है वे अपनी योग्यताओं के अनुसार इसकी परीक्षा के लिए आवेदन करते हैं और आवेदन के पश्चात इनकी परीक्षाएं ली जाती है.

यह परीक्षा आज की जनरेशन में ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों तरीके से ली जाती है. राजस्व निरीक्षक की परीक्षा तीन स्टेप में ली जाती है.

पहला, एजुकेशनल रिकॉर्ड इसके अंतर्गत उम्मीदवारों की अभ्यर्थी की एजुकेशन से संबंधित सर्टिफिकेट की जांच की जाती है.

दूसरे लिखित परीक्षा जिसमें जनरल नॉलेज, अर्थमैटिक, जनरल इंटेलिजेंस ई-टेस्ट,जनरल हिंदी इन सभी विषयों से मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन पूछे जाते हैं.

जिसमें उम्मीदवारों द्वारा उचित मार्क्स लाया जाता है इस एग्जाम में नेगेटिव मार्किंग नहीं होती है इसलिए उम्मीदवारों के लिए थोड़ी आसान होती है. 

जब यह दोनों परीक्षाएं उम्मीदवारों के द्वारा पास की जाती है तो इसके पश्चात पर्सनैलिटी टेस्ट यानी कि इंटरव्यू में उन्हें बुलाया जाता है और फिर उनकी इंटरव्यू अधिकारियों के द्वारा ले जाती है.

जो अभ्यर्थी इन तीनों परीक्षाओं में सफल होते हैं उनको रिवेन्यू इंस्पेक्टर के पद मिल जाती है और वे अपने कर्तव्य को अपने सभी कार्यों को करके निभाते हैं.

रिवेन्यू इंस्पेक्टर परीक्षा पैटर्न:- 

यह परीक्षा दो पेपर की होती है जिसमें पहले पेपर के अंतर्गत जीके रिजनिंग साइंस या मैथ विषय से प्रश्न आते हैं, फर्स्ट पेपर की परीक्षा में कुल प्रश्न 150 होते हैं जो 300 मार्क्स के रहते हैं.

Paper-2 में केवल हिंदी से प्रश्न पूछे जाती है जिसमें कुल 25 प्रश्न होते हैं ओरिया विषय 50 मार्क्स का रहता है.

इस प्रकार इस परीक्षा में दोनों पेपर को मिला दे तो टोटल नंबर ऑफ क्वेश्चन 175 तथा मार्क्स 350 होता है.

Revenue inspector बनने के लिए जरुरी कोर्स :- 

इस परीक्षा के लिए तैयारी कर रहे हैं विद्यार्थियों को विभिन्न प्रकार के विषयों की पढ़ाई करनी होती है जैसे रिजनिंग, मैथ्स  या साइंस, जीके एवं हिंदी.

इस परीक्षा की तैयारी के लिए बहुत सारे इंस्टिट्यूट भी खुले होते हैं जहां आप ज्वाइन लेकर इसकी तैयारी अच्छे पूर्वक कर सकते हैं.

इंस्टिट्यूट के साथ-साथ इसकी तैयारी आप घर बैठे इंटरनेट की मदद से भी कर सकते हैं क्योंकि आज की जनरेशन में इंटरनेट की मदद से भी पढ़ाई की जाती है.

 कई उम्मीदवार ऐसे होते हैं जो अपने self-study के साथ साथ कई कठिन परीक्षाओं को इंटरनेट से पढ़ कर देते हैं और उसमें सफल भी होते हैं.

सिलेबस की जानकारी रखें:- 

जैसा कि आपको पता है कि रिवेन्यू इंस्पेक्टर एक सरकारी नौकरी होती है और सरकारी नौकरी आसानी से नहीं मिलती इसके लिए कड़ी मेहनत और परिश्रम लगातार करना होता है तभी किसी सरकारी नौकरी में सिलेक्शन हो पाता है.

जब आप किसी परीक्षा की तैयारी कर रहे होते है तो सबसे पहले आपको अपनी परीक्षा से संबंधित सिलेबस की जानकारी होना अनिवार्य है.

जब आप सिलेबस को जानेंगे तभी आपको पता चलेगा कि कौन-कौन से विषय है इस परीक्षा के अंतर्गत पढ़ने हैं और कौन से विषय में किस टॉपिक को पढ़ना है इसके साथ साथ किस-किस विषयों में कितने कितने मार्क्स के क्वेश्चन आते हैं.

यदि आप सिलेबस को जानेंगे तो इससे आपकी तैयारी करने की प्रक्रिया आसान होगी.

टाइम टेबल के अनुसार पढ़ें:- 

हर एक विद्यार्थी जो अलग-अलग परीक्षाओं की तैयारी करते हैं उन्हें अपनी पढ़ाई टाइम टेबल के अनुसार करनी चाहिए क्योंकि तैयारी के लिए टाइम मैनेजमेंट होना बहुत जरूरी है.

तभी आप की तैयारी अच्छे ढंग से हो पाएगी. 

यदि आप भी रिवेन्यू इंस्पेक्टर की एग्जाम की तैयारी कर रहे हैं तो आपको भी अपनी सिलेबस की पढ़ाई टाइम टेबल के अनुसार करनी चाहिए क्योंकि जो विद्यार्थी टाइम मैनेजमेंट के साथ अपनी पढ़ाई करता है उसकी सिलेबस जल्दी कंप्लीट होती है.

टाइम टेबल से पढ़ने के साथ-साथ विद्यार्थियों को अपने विक सब्जेक्ट में भी ध्यान देना जरूरी है क्योंकि अक्सर विद्यार्थी विक विषय को नजरअंदाज करते हुए इंटरेस्टेड विषय में ज्यादा ध्यान देते हैं जिससे उनकी परीक्षा अच्छी नहीं जाती.  

यदि आपको अपनी परीक्षा  में सफल होनी है तो आप अपने इंटरेस्टेड विषयों की अपेक्षा विक विषय में ज्यादा ध्यान दें इससे आपका पकड़ सभी विषयों में अच्छा बना रहेगा और आप अपना एग्जाम भी अच्छी तरीके से दे पाएंगे.

रिवेन्यू इंस्पेक्टर को कहां मिलेगी सरकारी नौकरी

एक राजस्व निरीक्षक हर एक राज्य सरकार के राजस्व विभाग के अंतर्गत कार्य करते हैं.

सभी राज्यों में इनका पद उनके राज्य सरकार के स्थानीय विभागों के अंतर्गत निदेशक कार्यालय में उच्च स्तर के अधिकारी के रूप में नियुक्त किया जाता है.

कुछ राज्यों में रिवेन्यू इंस्पेक्टर की चयन प्रक्रिया डायरेक्ट की जाती है तथा कुछ राज्यों में इनकी  सम्मिलित रूप से परीक्षा ली जाती है तत्पश्चात इनका चयन होता है.

इस परीक्षा के लिए आवेदन कैसे करें?

इच्छुक अभ्यर्थी इस परीक्षा के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीके से आवेदन कर सकते हैं क्योंकि यह परीक्षा दोनों तरीके से ली जाती है.

इस परीक्षा के अधिकारिक वेबसाइट में जाकर आवश्यक डॉक्यूमेंट के साथ-साथ फुल इनफार्मेशन और डिटेल भर के आप इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं.

रिवेन्यू इंस्पेक्टर की परीक्षा का अपडेट समाचार पत्रों तथा न्यूज़ चैनल से ले सकते हैं क्योंकि प्रत्येक दिन करंट अपडेट समाज समाचारों में दिया जाता है जिससे आपको इस परीक्षा की भी अपडेट मिल जाएगी जिसमें आप इस परीक्षा से संबंधित जानकारियां ले सकते है.

रिवेन्यू इंस्पेक्टर की सैलेरी कितनी होती है?

राजस्व विभाग के अंतर्गत इस पद में नियुक्त अधिकारी यानी कि रिवेन्यू इंस्पेक्टर की सैलरी 5200 से 20000 ग्रेड पे के रूप में दी जाती है.

रिवेन्यू इंस्पेक्टर की प्रमोशन कितने साल में होती है?

जब योग्य उम्मीदवार को रिवेन्यू इंस्पेक्टर में नियुक्त किया जाता है तो उसके 8 से 10 साल के बाद उनका प्रमोशन नायाब तहसीलदार में होता है.

इसके पश्चात जब एक रिवेन्यू इंस्पेक्टर प्रमोशन के दौरान नायब तहसीलदार बनता है तो इसके दौरान फिर 8 या 10 साल के बाद इनका प्रमोशन तहसीलदार में हो जाता है. 

जब वे तहसीलदार बन जाते हैं तो इसके 6 से 8 साल बाद इनका प्रमोशन एसडीएम में हो जाता है.

इस प्रकार जो उम्मीदवार रिवेन्यू इंस्पेक्टर बनता है वह कुछ सालों में एसडीएम पद पर भी नियुक्त हो जाता है.

निष्कर्ष 

रिवेन्यू इंस्पेक्टर एक सरकारी नौकरी होती है और आजकल के सभी विद्यार्थी सरकारी नौकरी को अपना लक्ष्य बनाकर इसकी तैयारी में जुटे रहते हैं. 

आज आपको हमने अपने इस आर्टिकल के माध्यम से यह बताया की रिवेन्यू इंस्पेक्टर कैसे बने? तथा इसकी सैलरी और योग्यता कितनी होती है?

यदि आपको हमारा आर्टिकल पसंद आए तो आप अपने ग्रुप में जरुर शेयर करें.

Wasim Akram

वसीम अकरम WTeckni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment