Ration Card 2022: कार्ड धारकों के लिए आई है सबसे बड़ी खुशखबरी, जाने पूरी जानकारी

राशन कार्ड धारकों के वास्ते एक बहुत बड़ी खुशखबरी निकलकर के आ रही है, जिसके बारे में जान लेना सभी लोगों के लिए बहुत ही ज्यादा आवश्यक है.

आप को बता दें कि देश में उपस्थित आधे से ज्यादा जनसंख्या में राशन उपलब्ध कराया जाता है.

राशन कार्ड धारकों के वास्ते है नई खुशखबरी:

यदि आप भी एक राशन कार्ड धारक है और मुफ्त में राशन का फायदा उठाते हैं, तो आपको हमारा यह आर्टिकल बहुत ही ज्यादा आवश्यक है.

आपको बता दे उत्तर प्रदेश राज्य के 15 करोड़ राशन कार्ड धारकों के वास्ते बहुत बड़ी राहत की खबर निकल कर आ रही है.

उत्तर प्रदेश में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को सितंबर तक बढ़ाने का निर्णय लिया जा चुका है. यह योजना का छठा चरण होगा और 44.61 लाख मैट्रिक टन राशन का लक्ष्य निर्धारित किया जा चुका है.

इससे योजना में राशन कार्ड धारकों को बिल्कुल भी मुफ्त में राशन उपलब्ध कराया जाएगा.

सरकार के इस निर्णय से 15 करोड़ राशन कार्ड धारकों को इसका फायदा प्रदान किया जाएगा.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत कार्ड धारकों को अप्रैल से सितंबर 2022 तक 5 किलो अलग से राशन उपलब्ध कराने का प्रावधान जारी किया गया है.

अभी तक योजना को सितंबर तक मंजूरी प्रदान की जा चुकी है. ऐसे में अक्टूबर से लाभार्थियों को इस योजना का फायदा नहीं प्रदान किया जाएगा.

सभी राशन कार्ड धारकों के लिए एक बहुत बड़ी अपडेट है, जिसके अनुसार सरकारी राशन की दुकानों से राशन लेने के लिए नियमों में बदलाव हुआ है, जाने प्रावधान ताकि आप को दिक्कत न हो राशन उठाने में.

150 मिट्रिक टन राशन किया गया वितरित:

सरकार की कई सारी योजनाएं ऐसी भी है जिनका आपात्र लोग फायदा उठा रहे हैं. वर्तमान में राशन कार्ड धारकों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत हर महीने 5 किलो चावल प्रदान किया जा रहा है.

आखिरी दिनों में गेहूं की खरीदी पर भी राशन कार्ड को गेहूं की जगह पर चावल का वितरण किया जा रहा है.

सरकार की तरफ से प्रदान की गई जानकारी में इस बात का उल्लेख किया गया है कि राज्य में अप्रैल 2020 से लेकर के 2022 तक लगभग 150 मिट्रिक राशन निशुल्क वितरित किया जा चुका है.

आपकी जानकारी के लिए यह जान लेना भी बेहद ही ज्यादा जरूरी है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत गरीबों को मुफ्त में राशन प्रदान कराया जाता है.

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के मुताबिक श्रम विभाग में पंजीकृत सभी अंत्योदय राशन कार्ड तथा मनरेगा जॉब कार्ड धारकों एवं मजदूरों को प्रति यूनिट 5 किलो राशन प्रदान किया जाता है. 

आपात्र लोगों के द्वारा उठाए जा रहे हैं लाभ, सरकार है नाराज:

केंद्र सरकार राज्य सरकार राशन कार्ड धारकों को सभी योजनाओं का फायदा प्रदान करने के वास्ते योग्य मानती है.

ऐसे में बहुत से ऐसे लोग भी हैं जो सरकार की इस योजना का लाभ उठाते हैं जो कि आर्थिक रूप से समृद्ध होते हैं.

जिन्हें सरकार के द्वारा प्रदान की जाने वाली सहायताओं कि किसी भी प्रकार से कोई भी जरूरत नहीं होती है.

इस वजह से अब केंद्र सरकार ने इस पर लगाम लगाने के वास्ते राज्य सरकार के साथ एक बैठक प्रारंभ कर दी है.

यदि आप एक उत्तर प्रदेश के राशन कार्ड धारक है तो आपको एक अन्य आर्टिकल बहुत ही ज्यादा खुश कर देगा क्योंकि उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने राशन वितरण को लेकर के नई घोसणा की है.

केवल पात्र लोगों को प्रदान किया जाएगा लाभ:

सरकार गरीबी रेखा के मानकों में परिवर्तन करने को तैयार है. इससे उम्मीद यह की जा रही है कि अब कई राशन कार्ड धारक गरीबी रेखा की सूची से निष्कासित कर दिए जाएंगे.

जल्द ही नई पात्रता मानदंड जारी कर सरकार फर्जी तरीके का फायदा उठाने वाले लोगों पर लगाम कसने वाली है.

वर्तमान में सरकार का यह दावा है कि भारतीय राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम का फायदा 80 करोड़ लोगों को प्रदान किया जाएगा.

नए पात्रता मानदंड लागू के पश्चात जनसंख्या महत्वपूर्ण रूप से परिवर्तित की जाएगी. 

सरकार की बहुत सी योजनाओं से कर दिए जाएंगे वंचित:

केंद्र सरकार राज्य सरकार कई सारे योजनाओं का लाभ लोगों को गरीबी रेखा के आधार पर प्रदान करती है.

ऐसे में इस सूची में परिवर्तन के पश्चात जिन लोगों को गरीबों के स्वरूप में फायदा प्रदान किया जा रहा था अर्थात जो फर्जी तरीके से लाभान्वित किए जा रहे थे.

उन्हें भी इस योजना के तहत अपितु सैकड़ों सरकारी योजनाओं से वंचित कर दिया जाएगा और सरकार ने आर्थिक रूप से संपन्न लोगों को बाहर का रास्ता दिखाने की इच्छा जागृत कर दी है.

केंद्र सरकार के मुताबिक 80 करोड़ भारतीय राष्ट्रीय खाद सुरक्षा अधिनियम का फायदा उठा रहे हैं. 

जितने भी यूपी के लोगों ने हाल ही में राशन कार्ड अप्लाई किया है और जानना चाहते हैं राशन कार्ड की सूची में नाम है कि नहीं, तो आपको बता दें राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत राशन कार्ड की नई सूची जारी कर दी गई है, जिसे ऑनलाइन देखें.

आपात्र लोगों को कर दिया जाएगा राशन कार्ड सूची से निष्कासित:

सरकार शीघ्र ही नए मानकों को लागू करने की तैयारी में है, पात्र लाभार्थियों का खुलासा कर दिया जाएगा.

वहीं आपात्र पाए गए राशन कार्ड धारकों का क्या किया जाएगा, इस पर अभी तक कोई भी अपडेट निकलकर नहीं आ रही है. 

निष्कर्ष:

यह article में हमने आप सभी लोगों के साथ राशन कार्ड योजना से जुड़ी नहीं अपडेट आप सभी लोगों के समक्ष प्रस्तुत करी है. हमें आशा है कि हमारे आर्टिकल आपको बहुत ही ज्यादा पसंद आया होगा.

अगर आप हमसे कोई सवाल पूछना चाहते हैं या फिर हमें कोई सुझाव देना चाहते हैं. तो यह काम आप कमेंट के जरिए आसानी से कर सकते हैं.

इसके साथ ही हम आप सभी लोगों से सादर अनुरोध भी करना चाहते हैं कि हमारे इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ जरुर शेयर करें.

Ahmed Ruhul Amin

हिंदी भाषा के माध्यम से सरकारी योजना, परीक्षा, नौकरी, तकनीक और ट्रेंडिंग जानकारी लिखना मुझे बहुत पसंद है.

Leave a Comment