PM Mudra Scheme Update : अन्य लोन योजनाएं आई समीक्षा के घेरे में, जानें क्या है मामला

PM Mudra Scheme Update : आज के इस आर्टिकल में हम सभी लोग प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना से संबंधित जानकारियों पर विचार विमर्श करने वाले हैं. यदि आप इस योजना में रुचि रखते हैं और चाहते हैं कि इससे संबंधित प्रत्येक जानकारी आप तक पहुंचे तो इसके लिए बेहद ही आवश्यक है कि आप हमारे इस आर्टिकल के साथ आखिर तक जुड़े रहे.

आज हम सब लोग प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना से संबंधित हर एक मुद्दे पर चर्चा करेंगे और इसके साथ हम इसके शुभ प्रभाव पर भी विचार विमर्श करने वाले हैं. किंतु इन सब बातों से वाकिफ होने के लिए बेहद ही आवश्यक है कि हमारे इस आर्टिकल को आखिर तक पढ़ा जाए. 

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना क्या है :-

PM Mudra Scheme Update : प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना हमारे देश में केंद्र सरकार के द्वारा लाई गई एक बहुत ही ज्यादा कल्याणकारी और लाभकारी योजना है. इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश में स्वरोजगार की उपलब्धता में वृद्धि करना है. इसका सकारात्मक प्रभाव निसंदेह रूप से हमारे समाज में दिखाई दे रहा है. 

सरकार के द्वारा लाए गए प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के तहत देश में उपस्थित छोटे छोटे व्यवसाय करने वाले लोगों तथा उन लोगों को जो स्वयं का व्यवसाय प्रारंभ करना चाहते हैं तो सरकार के द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान करने हेतु लोन उपलब्ध कराए जाते हैं.

जिससे कि वह अपने बिजनेस को और भी बेहतर ढंग से कर सके और देश में रोजगार की उपलब्धता में स्वयं का योगदान दे सकें. वैसे तो प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के तहत देश में उपस्थित लोगों को आर्थिक सहायता तो मिलेगी ही लेकिन उन्हे भी एक कसौटी में खरा उतरना होगा, तत्पश्चात ही कहीं जाकर उन्हें इस योजना के तहत लाभान्वित किया जाएगा.

आपको बता दें कि इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश में स्वरोजगार की उपलब्धता में वृद्धि करना है इस वजह से केवल उन्हीं लोगों को सूचना के तहत लाभान्वित किया जाएगा जिनका पहले से ही कोई छोटा मोटा बिजनेस है या फिर उनके पास प्रारूप है वेतन प्रारंभ करने के लिए लेकिन आर्थिक सहायता नहीं.

कितने प्रकार के लोन उपलब्ध कराए जाएंगे :-

वैसे तो इस योजना के तहत प्रदान किए जाने वाले लोन की रकम ₹1000000 तक की जाती है. लेकिन आपके लिए यह जान लेना भी बेहद ही आवश्यक है कि इस योजना के तहत और भी अन्य लोग उपलब्ध कराए जाते हैं साफ-साफ कहा जाए तो इस योजना के तहत कुल 3 प्रकार के लोन उपलब्ध कराए जाते हैं जो कि इस प्रकार से हैं.

  • शिशु लोन :- यदि कोई व्यक्ति इस लोन को लेता है तो उसे इस योजना के तहत ₹50000 तक का लोन उपलब्ध कराया जाता है.
  • किशोर लोन :- यदि कोयला भारतीय सेना के तहत किशोर लोन प्राप्ति हेतु आवेदन करता है तो उसे ₹50000 से लेकर ₹500000 तक का लोन उपलब्ध कराया जाएगा.
  • तरुण लोन :- प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के तहत प्रदान किए जाने वाला तरुण लोन सबसे बड़ा लोन है, क्योंकि इससे लोन में लाभार्थी को ₹500000 से लेकर के 1000000 रुपए तक का लोन उपलब्ध कराया जाता है.

ये भी अवश्य पढ़ें:

जानिए क्या कहा वित्त मंत्री ने :-

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण मंगलवार को सार्वजनिक क्षेत्रों के बैंकों से अनुसूचित जाति के सदस्यों के वास्ते रेल तथा बाकी कल्याणकारी योजनाओं का मूल्यांकन करने वाली है. बैठक में बैंकों के माध्यम से अनुसूचित जाति समुदाय के सदस्यों को प्रदान किए गए ऋणों के साथ-साथ स्टैंड अप इंडिया तथा प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के साथ विभिन्न कार्यक्रमों के अंतर्गत दिए गए चुनाव की समीक्षा की जाने वाली है. 

इन योजनाओं की होने वाली है समीक्षा :-

वित्त मंत्री ने इस बात की जानकारी दी है और कहा है कि “अनुसूचित जाति समुदाय के व्यक्तियों को बैंकों के माध्यम से तथा साथ ही विभिन्न ऋण योजनाओं के अंतर्गत दिए जाने वाले ऋण जैसे कि स्टैंड अप इंडिया, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन, सूक्ष्म और लघु उद्यमों देवास से क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट, शिक्षा ऋण, अनुसूचित जातियों के लिए ऋण वृद्धि गारंटी योजना (CEGSSC), वेंचर कैपिटल फंड इत्यादि की बैठक में समीक्षा की जाने वाली है. 

वित्त मंत्री के मुताबिक नई दिल्ली में होने वाली बैठक में वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी तथा भागवत किसानराव कराड और वित्तीय सेवा विभाग के सचिव संजय मल्होत्रा सम्मिलित होने वाले हैं.

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष और सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों तथा भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक तथा राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक जैसे वित्तीय संस्थानों के प्रमुख की बैठक में सम्मिलित होने वाले हैं. बैठक में बैंकों में अनुसूचित जातियों के कल्याण के पास से किए गए उपायों की भी समीक्षा की जाने वाली है. 

अनुसूचित जातियों के वास्ते उद्यम :-

समीक्षा में आरक्षण, बैकलॉग रिक्तियों तथा उन्हें भरने के वास्ते की गई नई कार्यवाही तथा कल्याण रंगों के साथ बैठक, मुख्य संपर्क अधिकारियों की नियुक्ति तथा शिकायत के निवारण पर ध्यान केंद्रित किया जाने वाला है. राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम), राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन (एनयूएलएम), सूक्ष्म और लघु उद्यमों के लिए क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट (सीजीटीएमएसई), शिक्षा ऋण, अनुसूचित जातियों के लिए ऋण वृद्धि गारंटी योजना (सीईजीएसएससी) यह सब एस सी से आने वाले लोगों के वास्ते ही है.

आपकी जानकारी के लिए हम आप को इस बात से अवगत करा दे स्टैंड अप इंडिया योजना, अनुसूचित जातियों के वास्ते दिन वृद्धि गारंटी योजना (सीईजीएसएससी), तथा अनुसूचित जातियों के वास्ते उद्यम पूंजी कोष कुछ ऐसे कार्यक्रम हैं जिन्हें सरकार ने विशेष रूप से अनुसूचित जातियों के वास्ते ही प्रारंभ किया है. इन कार्यक्रमों के अतिरिक्त सरकार ने समाज के सभी पहलुओं के वास्ते भी समावेशी विकास पर ध्यान केंद्रित करा है. 

निष्कर्ष :-

आप सभी प्यारे पाठकों ने हमारे Article को आखिरी तक पढ़ा उसके लिए हम आप सभी लोगों का तहे दिल से धन्यवाद करते हैं. आज के Article में हम सभी लोगों ने प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना और लोन योजना से आई समस्या के घेरे पर विस्तार पूर्वक चर्चा की है.

हमें आशा है कि हमारा यह प्रयास आपको बहुत ही ज्यादा पसंद आया होगा. लेकिन अगर आप हमसे कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो यह काम आप कमेंट के जरिए आसानी से कर सकते हैं। इसके साथ ही हमें अपनी राय कमेंट बॉक्स के जरिए जरूर बताएं.

लाभदायक पोस्ट पढ़ें


Important Links

WTeckni HomeClick Here
Other postsClick Here
Join Telegram ChannelClick Here

Ahmed Ruhul Amin

हिंदी भाषा के माध्यम से सरकारी योजना, परीक्षा, नौकरी, तकनीक और ट्रेंडिंग जानकारी लिखना मुझे बहुत पसंद है.

Leave a Comment