Business Idea Artificial Jewellery : आर्टिफिशियल ज्वेलरी का बिजनेस कैसे शुरू करें?

हमारे प्यारे देश भारत में यह स्वाभाविक रूप से देखा जाता है कि हमारे देश की महिलाएं आभूषणों के प्रति कितनी आकर्षित रहती है। कहा जाता है कि यदि औरत सिंगार कर ले तो उसकी खूबसूरती में चार चांद लग जाते हैं। और महिलाओं के श्रृंगार में से आभूषण अविभाज्य अंग बन चुके हैं।

हमारे देश में महिलाओं को विभिन्न धातुओं से बने आभूषण को धारण करना बहुत पसंद होता है। इन धातुओं में मुख्य रूप से सोना , चांदी , प्लैटिनम ,  हीरे इत्यादि होते हैं।स्त्रियों में श्रृंगार कि यह प्रचलित धारणा आजकल की नहीं है अपितु यह सदियों से चली आ रही है।

हमारे देश में आभूषण से सिंगार करने का प्रचलन प्राचीनतम काल से चला आ रहा है। नहीं प्राचीनतम नहीं बहुत पहले से चला आ रहा है।हिंदू धर्म में देवी देवताओं को भी अधिकतर देवी देवताओं को भी स्वर्ण आभूषणों से सुसज्जित दिखाया जाता है।।

आभूषण कितने महंगे हैं और कितने सुंदर या व्यक्ति की हैसियत के परिचायक होते हैं। अर्थात जिस भी महिला के पास महंगे से महंगे स्वर्ण आभूषण है इसका तात्पर्य है कि वह धनी है।जनसंख्या के स्थान पर हमारा देश भारत पूरी दुनिया पर दूसरे स्थान पर आता है। और इतनी बड़ी जनसंख्या वाले देश में सोने चांदी हीरे इत्यादि से बने हुए देवरो को खरीदना कोई छोटी बात नहीं है। 

लेकिन यह सभी आभूषण दिखने में जितने सुंदर लगते हैं स्वर्ण आभूषण उतने ही महंगे होते हैं। अब ऐसे में हर किसी के बस की बात नहीं होती है कि वह सोने चांदी प्लैटिनम और हीरे से बने आभूषणों को खरीदकर पहने।

हमारे देश को त्योहारों का देश कहा जाता है अर्थात बहुत से ऐसे अवसर होते हैं जिनमें महिलाओं को सजना सवरना पड़ता है और ऐसे में उन्हें आभूषणों की आवश्यकता होती है।अब हर बार नए नए स्वर्ण आभूषणों को खरीदना हर किसी के बस की तो बात नहीं है।इसी के परिणाम स्वरूप लोगों का रुझान आर्टिफिशियल ज्वेलरी की ओर बढ़ रहा है। 

जानिए क्यों लोग आर्टिफिशियल ज्वेलरी की ओर आकर्षित हो रहे हैं:-

सबसे पहला कारण तो यह है कि सोने चांदी प्लैटिनम और हीरो से बने जेवर बहुत ज्यादा महंगे होते हैं। और हर किसी के बस की बात नहीं होती है कि वह इन सभी से बनी आभूषणों को खरीद सके।

सोने के आभूषण प्रयोग के साथ-साथ अपना रंग भद्दा करते जाते हैं। उसके मेंटेनेंस के लिए भी समय-समय पर खर्च करने की आवश्यकता होती है।सोने चांदी प्लेटिनियम के नियम हीरे इत्यादि में नए मॉडल नहीं होते हैं। वही आर्टिफिशियल ज्वेलरी में बहुत से मॉडल्स आते हैं।

इन सभी चीजों के कारण लोग सोने चांदी हीरे और प्लेटीनियम किशोरों को छोड़ आर्टिफिशियल ज्वेलरी की ओर अपने कदम बढ़ा रहे हैं।

जाने क्या है आर्टिफिशियल ज्वेलरी का बिजनेस शुरू करने से लाभ:-

आर्टिफिशियल ज्वेलरी बिज़नेस के बहुत से फायदे हैं। जो लोगों के लिए बहुत ही ज्यादा लाभकारी सिद्ध हो सकते हैं। इनमें से क्या-क्या फायदे मुख्य है हमने उन्हें सूचीबद्ध किया है। जो कि कुछ इस प्रकार से हैं

  • सर्वप्रथम तो आपको इस बिजनेस को करने के लिए कहीं भी जाने की आवश्यकता नहीं है आप इसकी शुरुआत अपने ही घर से कर सकते।
  • आर्टिफिशियल ज्वेलरी जो होती है वह सोने चांदी हीरे इत्यादि से बनी ज्वेलरी से बहुत सस्ती होती है।
  • इसके परिणाम स्वरुप यह जरा भी मायने नहीं पड़ता है कि खरीददार अमीर है या गरीब व सरलता पूर्वक आर्टिफिशियल ज्वेलरी को खरीद सकता है।
  • यदि आप चाहे तो आर्टिफिशियल ज्वेलरी बनाने का बिजनेस भी कर सकते हैं अथवा इसे बेचने का बिजनेस भी प्रारंभ कर सकते हैं। आपको इन दोनों में ही बहुत कम निवेश करने की आवश्यकता पड़ेगी।
  • अभी यह ट्रेंड में है कि जैसे रंग के कपड़े पहने उसके रंग के आभूषण और श्रृंगार भी किए जाते हैं। ऐसे में बहुत सी ऐसी महिलाएं भी है जो अपनी ड्रेस की रंग के हिसाब से ही अपने आभूषणों का भी चयन करती है।
  • इसका नतीजा यह हुआ कि एक औरत या एक खरीददार एक साथ तीन से चार तरह के आर्टिफिशियल ज्वेलरी को खरीदता है।
  • सस्ता होने के कारण यह मुमकिन हो पाया है।
  • आजकल सब कुछ डिजिटल हो चुका है। अतः यदि आप चाहे तो आपने द्वारा उत्पादित सामानों को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर सफलतापूर्वक भेज सकते हैं। इसके लिए आपको दुकान में किराए खर्च करने की जरूरत नहीं पड़ेगी।
  • यह उन बिजनेस में से आता है जिसमें आप कम निवेश करके निवेश पूंजी की तुलना में हजारों गुना अधिक कमा सकते हैं।

आप किस प्रकार से ज्वेलरी का बिजनेस आरंभ कर सकते हैं

यदि आप आर्टिफिशियल ज्वेलरी बिज़नेस से खुद को जोड़ने को इच्छुक हैं तो आपको बता दें कि यह बिजनेस दो तरह से कर सकते हैं।

पहला तो आप खुद ही आर्टिफिशियल ज्वेलरी बना कर भेज सकते हैं। इसके लिए आपको इसमें लगने वाला कच्चा माल और कारीगरी खुद ही करनी होगी।

दूसरा तरीका यह हुआ कि आप बनी बनाई आर्टिफिशियल ज्वेलरी को अपने द्वारा बाजार में या ग्राहकों को बेचे। इसमें आपका बस इतना ही कार्य होगा की बनी हुई ज्वेलरी को आपको ग्राहकों तक पहुंचाना होगा।

आर्टिफिशियल ज्वेलरी बनाने की प्रक्रिया और इसकी बिक्री:-

यह एक ऐसा बिजनेस है जिसे यदि आप चाहे तो छोटे स्तर से भी शुरू कर सकते हैं अथवा बड़े स्तर से भी शुरू कर सकते हैं।

यह पूर्णता आप पर निर्भर करता है कि आप इस पर कितना निवेश करने के इच्छुक हैं। यह मायने नहीं रखता है कि यदि आपने कम निवेश किया है तो इससे आपको मुनाफा मिलेगा या नहीं मिलेगा।

आर्टिफिशियल बिजनेस में कम पूंजी लगाकर भी अच्छी खास कमाई कर सकते हैं।प्रारंभ में आपको थोड़ी सी लागत तो आएगी यदि आप बड़े स्तर पर इसकी शुरुआत कर रहे हैं तो आपको इसमें लगने वाली लागत, मशीनरी , उपकरण और कच्चा माल इत्यादि उठाना पड़ेगा।

सामान्यता प्लास्टिक के सात इलेक्ट्रोप्लेटेड , पीतल के साथ सिल्वर प्लेटेड तथा सिल्वर के साथ गोल्ड प्लेटेड इत्यादि का प्रयोग करके आर्टिफिशियल ज्वेलरी को बनाया जाता है।

लेकिन इसके अतिरिक्त पत्थर , तांबा , और सोने का आवरण चढ़ा के तथा दूसरे धातु से भी कुछ इनका निर्माण कराया जा सकता है।

जानिए मशीनरी तथा उपकरण:-

यदि आप आर्टिफिशियल ज्वेलरी बिज़नेस में अपने पांव जमाना चाहते हैं तो आपको निम्न उपकरणों की जरूरत पड़ेगी। चली जानते हैं क्या है आर्टिफिशियल ज्वेलरी बिज़नेस की स्थापना हेतु आवश्यक उपकरण।

  • मशीन OZ क्षमता के साथ
  • हैंड इंजेक्शन मोल्डिंग
  • मोल्डिंग डाई
  • काम करने के लिए मेज
  • जिग्स और फिक्सचर
  • हीट सीलिंग मशीन

कच्चे माल के रूप में आपको बहुत सारे रंग के HDPE/LDPE Granules के अतिरिक्त पत्थर, धातु, धागा, गोंद आदि की जरूरत पड़ेगी।

कहां से सीखे आर्टिफिशियल ज्वेलरी बनाना:-

आप आर्टिफिशियल ज्वेलरी बनाने सीखने के लिए अपने नजदीकी किसी इंस्टिट्यूट में एडमिशन करवा सकते हैं। यदि आप इसमें ऑफ सक्षम है तो आप इंटरनेट के सहायता से भी आर्टिफिशियल ज्वेलरी बनाना सीख सकते हैं।

निष्कर्ष:-

इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको आर्टिफिशियल ज्वेलरी बनाने के विषय में विस्तार पूर्वक बताया है हमने यह भी विस्तार से बताया है कि यह किस प्रकार से सरल और अधिक पूंजी पहुंचाने वाली बिजनेस है। हम उम्मीद करते हैं कि हमारे आर्टिकल आपको पसंद आया होगा।

दूसरे लाभदायक पोस्ट पढ़ें

Important Links

WTeckni HomeClick Here
Other postsClick Here
Join Telegram ChannelClick Here

Wasim Akram

वसीम अकरम WTeckni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment