Gas Agency Dealership Business कैसे करें, जानें पूरी जानकारी

भारत में गैस एजेंसी बिज़नेस को सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त है सरकार इस बिज़नेस में अपना योगदान देती है. ऐसे कई लोग हैं जो अपने खुद का व्यवसाय करना चाहते हैं, ऐसे में गैस एजेंसी डीलरशिप लेना उन लोगों के लिए एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है. लेकिन कुछ लोगों को गैस एजेंसी डीलरशिप लेने की प्रक्रिया नहीं पता होती इसलिए आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से बताएंगे कि “गैस एजेंसी डीलरशिप व्यवसाय कैसे करें?”

बहुत से ऐसे लोग होते हैं जिनका मानना यह होता है कि किसी के नौकर बनने से अच्छा आप खुद के एक छोटे से मालिक बन जाए. ये लोग व्यवसाय के प्रति अपनी रुचि बहुत ही ज्यादा रखते हैं. गैस एजेंसी डीलरशिप भी एक बहुत ही अच्छा बिज़नेस है जिसे लेने की प्रक्रिया हम अपनी इस आर्टिकल के माध्यम से बताने जा रहे हैं.

गैस एजेंसी डीलरशिप बिज़नेस क्या है?

गैस एजेंसी बहुत ही महत्वपूर्ण व्यवसाय माना जाता है क्योंकि गैस की आवश्यकता प्रत्येक दिन पड़ती है

ऐसे में यदि कोई गैस एजेंसी डीलरशिप ले तो उसे कभी घाटा नहीं सहना होगा बल्कि इस में उन्हें केवल मुनाफा मिलेगा.

इसका हमारे देश में काफी ज्यादा विस्तार हो चुका है, गैस एजेंसी कार्य कुछ सालों से हमारे देश में तेज गति से विस्तार कर रही हैं.

ऐसे में यदि कोई इस बिज़नेस को शुरू करता है तो उसे इसमें काफी मुनाफा मिल सकता है क्योंकि यह काम कोई सीजन के हिसाब से नहीं चलाई जाती बल्कि गैस एक ऐसी चीज है,

जिसका उपयोग प्रत्येक घरों में हर दिन खाना बनाने के लिए किया जाता है. आजकल लोग लकड़ी और कोयले को छोड़कर गैस की और अपना कदम बढ़ा रहे हैं.

अगर आज हम किसी के भी घर में जाते हैं तो वहां हम देखते है की वहां पर किचन में गैस उपलब्ध है क्योंकि लोग पहले के जैसा अब कोयला और लकड़ी का उपयोग नहीं करना चाहते हैं और उसकी जगह पर गैस का उपयोग कर प्रत्येक दिन का खाना बनाते हैं.

प्रत्येक दिन उपयोग में लाई जाने वाली हर एक समान का व्यवसाय बहुत ही अच्छी तरीके से चलता है. ऐसे में गैस एजेंसी डीलरशिप लेना लोगों के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण विकल्प है क्योंकि गैस हमारे घरों में हमेशा इस्तेमाल की जाती है.

जिससे गैस एजेंसी डीलरशिप लेने वाले लोगों को अच्छा खासा मुनाफा हो सकता है. सीजन के अकॉर्डिंग व्यवसाय करने वाले बिजनेसमैन को जितना मुनाफा नहीं होता उतना तो प्रत्येक दिन इस्तेमाल किए जाने वाले पदार्थों का व्यवसाय करने से फायदा मिलता है.

इसलिए यदि आप किसी बिजनेस को स्टार्ट करना चाहते हैं तो गैस एजेंसी डीलरशिप आपके लिए एक अच्छा विकल्प साबित होगा.

हमारे देश में जब भारत सरकार द्वारा गैस नहीं दिया गया था उस समय बहुत ही कम लोगों के घर में गैस की टंकी देखने को मिलती थी.

लेकिन जब से सरकार द्वारा हर एक घरों में गैस दी गई तब से इस बिज़नेस में और भी वृद्धि हो गई है क्योंकि उस समय बहुत कम लोग ही गैस का इस्तेमाल करते थे.

जिस कारण इसका व्यवसाय ज्यादा लाभ नहीं देता था. लेकिन अब पहले के मुकाबले अधिक से अधिक लोग गैस का इस्तेमाल करने लगे हैं.

ऐसे में यदि आप गैस एजेंसी डीलरशिप लेंगे तो यह बहुत ही शानदार तरीके से चलेगा और आपको काफी हद तक फायदा भी मिलेगा। सरकार गैस एजेंसी डीलरशिप बिज़नेस (gas agency dealership business) को काफी ज्यादा प्रोत्साहन दे रही है.

सरकार द्वारा भी इस काम में मदद की जा रही है इसलिए यदि आप गैस एजेंसी डीलरशिप बिज़नेस करते हैं तो आपको सरकार के माध्यम से भी मदद मिल सकती है.

इस सुपरहिट बिजनेस के बारे में जरूर जान लें इसमें मिलती है तक की 90% सब्सिडी, जो आपको लिए हो सकता है लाभदायक।

गैस एजेंसी के प्रकार

यदि आप इस काम को प्रारंभ करना चाह रहे हैं तो इसके लिए आपको इसके प्रकार की जानकारी होना आवश्यक है तभी आपको इसे करने में आसानी होगी.

गैस एजेंसी के मुख्यता चार प्रकार है जो निम्नलिखित है

  • रू अर्बन वितरक – शहर और ग्रामीण इलाकों के लिए.
  • दुर्गम क्षेत्र वितरक- जहां गैस सिलेंडर आसानी से नहीं पहुंच सकते.
  • शहरी वितरक- शहर के लिए.
  • ग्रामीण वितरक – ग्रामीण के लिए.

ये सभी गैस एजेंसी डीलरशिप के प्रकार होते हैं. आप अपने इलाकों के अनुसार इन चारों में से किसी एक गैस एजेंसी में डीलरशिप ले सकते हैं.

यदि आप शहरी इलाके से बिलॉन्ग करते हैं तो आप शहरी वितरक को चुने और यदि आप ग्रामीण इलाकों से संबंधित है तो आप ग्रामीण वितरक को चुने और वहां से गैस एजेंसी का डीलरशिप ले. इस प्रकार आप अपने इलाकों के अकॉर्डिंग गैस एजेंसी डीलरशिप ले सकते हैं.

गैस एजेंसी के लिए योग्यता

यदि आप भी गैस एजेंसी डीलरशिप लेना चाहते हैं और इस व्यवसाय को शुरू करना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास कुछ योग्यताएं होनी चाहिए तभी आप इस काम को शुरू कर सकते हैं.

इस बिज़नेस आईडिया से आप घर से शुरू करें और कमाएं महीने 90000 रु कैसे इसका जवाब के लिए जरूर देखें?

गैस एजेंसी डीलरशिप बिज़नेस के लिए योग्यताएं निम्नलिखित है

1. जो आवेदक है उन्हें भारत का नागरिक होना अनिवार्य है.

2. इस बिज़नेस में महिला तथा पुरुष दोनों भागीदारी ले सकते हैं.

3. आवेदक के पास 10th पास का सर्टिफिकेट होना आवश्यक है तभी वे इस काम के लिए आवेदन करने में सक्षम हो पाएंगे अन्यथा नहीं.

4. उम्मीदवार की आयु सीमा 21 वर्ष से 60 वर्ष तक की होती है वही उम्मीदवार इस बिज़नेस के लिए आवेदन कर सकते हैं जिसकी आयु 21 वर्ष से 60 वर्ष के बीच हो.

5. जो व्यक्ति इस गैस एजेंसी डीलरशिप लेने के लिए आवेदन करते हैं उनके फैमिली मेंबर में कोई भी सदस्य किसी लॉयल मार्केटिंग कंपनी में कर्मचारी न हो .

6. उम्मीदवार इस काम को शुरू करना चाहते हैं उनके पास गैस सिलेंडर को स्टोर करने के लिए गोदाम होनी चाहिए तभी वे इसके लिए आवेदन कर सकते हैं अन्यथा नहीं.

गैस एजेंसी डीलरशिप बिज़नेस के लिए आवेदन कैसे करें?

यदि आप भी गैस एजेंसी लेना चाहते हैं और इसे स्टार्ट करना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको आवेदन करना होगा तभी आप इस काम को शुरू कर सकते हैं.

अब जिस बिज़नेस आइडियाज की बात करने जा रहे हैं उसमे एक लाख लगाकर हर महीने कमाएंगे 10 लाख तक मुनाफ़ा कमाने का अवसर मिल रहा है. यहां से ले सकते हैं पूरी जानकारी।

आवेदन करने की प्रक्रिया निम्नलिखित है

1. सर्वप्रथम आपको एलपीजी वितरक चयन की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा.

2. जैसे ही आप इस वेबसाइट को ओपन करेंगे आपको वहां अकाउंट बनाने का ऑप्शन दिखेगा जिसमें अकाउंट बनाना बहुत ही आसान है आप वहां अपना अकाउंट बना ले.

3. अकाउंट बनाने के पश्चात आप वहां लॉगिन कर लें.

4. जैसे ही आप वहां लॉगिन करेंगे आपको वहां गैस एजेंसी डीलरशिप का एक एडवर्टाइजमेंट दिखाई देगी.

5. इसके पश्चात आपको फॉर्म भरने का ऑप्शन दिखाई देगा.

6. फॉर्म में जितने भी डिटेल्स है सभी डिटेल्स को सही-सही अच्छे तरीके से भर दें.

7. फॉर्म को भरने के बाद वहां एक सबमिट ऑप्शन दिखाई देगा उस पर क्लिक कर दें इससे आपका फॉर्म सबमिट हो जाएगा.

इस प्रकार आपके आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी होगी और इन सभी प्रक्रियाओं को करने से आपकी सारी डिटेल्स कंपनी को मिल जाएगी जिसके बाद कंपनी आपको खुद कॉल करेगी.

सिक्योरिटी और निवेश के नियम

इसकी सिक्योरिटी और निवेश के नियम की जानकारी आपको जानने की जरूरत है तभी आप इस काम को अच्छे तरीके से शुरू कर पाएंगे.

यदि कोई ग्रामीण क्षेत्र का व्यक्ति इस बिज़नेस के लिए आवेदन कर रहा है और वह अगर जनरल कैटेगरी में आते हैं तो उन्हें 8000 का भुगतान करना पड़ता है और वही अगर वह व्यक्ति ओबीसी कैटेगरी से है तो उन्हें केवल 4000 का भुगतान करना होता है.

इसके साथ साथ एससी तथा एसटी लोग जो इस के लिए आवेदन कर रहे हैं उन्हें 2500 तक का भुगतान करना पड़ता है.

ग्रामीण क्षेत्रों के बाद अब बात आती है शहरी क्षेत्र की, शहरी क्षेत्र के कोई व्यक्ति इस बिज़नेस को स्टार्ट करना चाहता है और वह यदि जनरल कैटेगरी में आते हैं तो उन्हें 10,000 आवेदन करने के दौरान देना पड़ता है.

इन दोनों क्षेत्रों के पश्चात, यदि कोई व्यक्ति sc-st क्षेत्र से बिलॉन्ग करता है और वे इस के लिए आवेदन करना चाहते है तो उन्हें 3000 का भुगतान करना पड़ेगा. Sc-st क्षेत्र से बिलॉन्ग करने वाले ओबीसी कैटेगरी के लोग आवेदन करते है तो उन्हें ₹5000 का भुगतान करना पड़ेगा.

गैस एजेंसी डीलरशिप बिज़नेस के लिए निवेश

इसके लिए आपको कुछ निवेश करने की आवश्यकता पड़ेगी तभी आप इसे अच्छे तरीके से चला पाएंगे। कोई भी काम हो उसको स्टार्ट करने के लिए लोगों को पैसे खर्च करने पड़ते हैं तभी वह काम सेटअप हो पाता है.

ठीक इसी प्रकार जो लोग गैस एजेंसी लेना चाहते हैं उन्हें भी निवेश करने की आवश्यकता होती है. आप जितना बड़ा बिज़नेस करना चाहते हैं आपको निवेश भी उतना अधिक करना होगा और गैस एजेंसी के लिए जमीन होना बहुत ही आवश्यक है.

यदि आपके पास पहले से जमीन उपलब्ध है तो आपको जमीन में निवेश नहीं करना पड़ेगा और यदि आपके पास जमीन नहीं है तो आपको इसके लिए जमीन खरीदना होगा।

जिसमें अच्छी खासी रकम लगेगी. इसके साथ साथ कंपनी को सिक्योरिटी फीस भी आपको देनी होगी. जमीन खरीदने के बाद उसमें आपको एक गोदाम बनाना होगा गोदाम बनाने के लिए भी रकम खर्च करनी पड़ेगी.

गोदाम बनाने के बाद इसका इंटीरियल सेट अप करने के लिए भी कुछ निवेश करने की आवश्यकता होगी. काम को सुचारू ढंग से चलाने के लिए आपको कर्मचारियों को रखने की आवश्यकता पड़ेगी और उन सभी कर्मचारियों को टाइम टू टाइम तनख्वा भी देनी होगी.

गैस एजेंसी के प्रॉफिट

प्रत्येक दिन उपयोग की जाने वाली पदार्थ की खपत भी जल्दी जल्दी होती है ऐसे में लोग ज्यादा से ज्यादा गैस सिलेंडर को खरीदते हैं. इसमें जितना ज्यादा निवेश करेंगे आपको प्रॉफिट उसका डबल मिलेगा क्योंकि गैस सिलेंडर का दाम दिन प्रतिदिन बढ़ते रहता है. ऐसे में गैस एजेंसी की डीलरशिप लेने वाले व्यापारियों का इनकम भी अच्छा खासा होता है.

ध्यान में रखने वाले कुछ आवश्यक बातें

इसे शुरू करने के पहले आपको कुछ आवश्यक बातें ध्यान में रखनी जरूरी है इन सभी बातों को जानने के बाद ही आप इस काम को शुरू करें. आवेदन करते समय आवेदन पत्र में अपना डिटेल्स सही-सही भरे और फॉर्म भरने के बाद एक बार अच्छे से सारी डिटेल्स चेक कर ले.

इस बिज़नेस को शुरू करने के लिए आपके पास मिनिमम 30 लाख रुपए होना आवश्यक है तभी आप इसको अच्छे से शुरू कर पाएंगे. जब आप आवेदन करते हैं उस समय आप भरे हुए ऑनलाइन फॉर्म को सेव करके रख सकते हैं लेकिन फॉर्म को लास्ट डेट से पहले सबमिट कर दें.

इस फॉर्म में आपका फोटो और आपका सिग्नेचर दोनों लगता है तो आप इसे भरने से पहले अपना फोटो और सिग्नेचर स्कैन करके पहले से ही रख ले इससे आपको आवेदन करने में आसानी होगी.

निष्कर्ष:

गैस एजेंसी डीलरशिप बहुत ही महत्वपूर्ण व्यवसाय है जिसमें बहुत से लोग जुड़े हुए हैं, बहुत सारे लोग इस बिज़नेस को शुरू करना चाहते हैं उनमें से कुछ लोगों को गैस एजेंसी डीलरशिप लेने की प्रक्रिया नहीं पता होती।

इसलिए आज हमने अपने इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है कि “गैस एजेंसी डीलरशिप बिज़नेस कैसे करे (gas agency dealership business kaise kare)?”

आशा करते हैं आपको हमारा यह आर्टिकल बेहद ही पसंद आया हो और गैस एजेंसी डीलरशिप लेने की सारी प्रक्रियाएं आपको समझ आई हो.

Wasim Akram

वसीम अकरम WTeckni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

Join Youtube